अब इस जांच से स्तन कैंसर का पहले ही पता लगाया जा सकेगा

अब महिलाओं में स्तन कैंसर का पहले ही पता लगाया जा सकेगा। इसके लिए महिलाओं को बहुत पैसे खर्च करने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। न ही मैमोग्राफी का रेडिएशन झेलना होगा। यह मुमकिन होगा मैग्नेटिक रेजोनेंस स्पेक्ट्रोस्कोपी (एमआरएस) जांच से।

जांच से स्तन में मौजूद वसा व दूसरे रासायिनक तत्वों के स्तर को देखा जाएगा। वसा और रासायनिक तत्वों में तब्दीली की स्थिति में यदि इलाज शुरू कर दिया जाए तो बीमारी का पनपने से पहले ही खात्मा संभव होगा। पीजीआई परिसर स्थित सेंटर ऑफ बायोमेडिकल रिसर्च व केजीएमयू जनरल सर्जरी विभाग के संयुक्त शोध में यह खुलासा हुआ है।

 यह शोध पत्र यूएस के मेटाबोलोमिक्स के जनरल में प्रकाशित हो चुका है। सीबीएमआर के निदेशक डॉ. राजन राय ने बताया कि स्तन कैंसर के मामले में तेजी से इजाफा हो रहा है। अफसोस की बात यह है कि 70 से 80 प्रतिशत मरीज समय पर अस्पताल नहीं आ पा रहे हैं।  अधिक पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *